उपद्रवियों से निपटने के लिए योगी ने दिया सख्त आदेश, चला बुलडोजर

32
Advertisement

लखनऊ: बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद यूपी के कई जिलों में हिंसा हुई। उपद्रवियों ने जमकर पुलिसवालों पर पत्थर बरसाए। इस घटना के बाद से ही पुलिस प्रशासन एक्शन के मूड में है। सीएम योगी ने भी साफ निर्देश दिया है कि हिंसा करने वाले उपद्रवियों के साथ सख्ती से निपटा जाए। प्रयागराज में हुए हिंसा और उसका मास्टरमाइंड जावेद अहमद के पंप के अवैध निर्माण के खिलाफ एक्शन लिया गया है।

Advertisement

उपद्रव करने वालों के लिए ये तस्वीरें सबक के लिए काफी हैं। बुलडोजर का यह ऐक्शन भले ही अवैध निर्माण के खिलाफ है लेकिन इसमें एक संदेश छुपा है। यह संदेश अराजक तत्वों तक एक बार फिर मजबूती से यूपी की सरकार ने प्रयागराज से दिया है। इससे पहले बुलडोजर कानपुर में भी चला था।

सहारनपुर में चला था। जहां-जहां हिंसा हुई है सरकार वहां साफ संदेश दे रही है कि अराजक तत्वों को किसी भी तरह से बख्शा नहीं जाएगा।

Advertisement

पैंगबर विवाद के बाद प्रयागराज में हिंसा और विरोध प्रदर्शन के मास्टर माइंड जावेद पंप के घर प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने अवैध निर्माण तोड़ने की कार्रवाई की। पीडीए सचिव की ओर से जारी आदेश में कहा गया था कि जावेद पंप की ओर से बिना नक्शा पास कराए मकान का निर्माण कराया था। इस संबंध में उससे कागजात मांगे गए थे। जावेद पंप कागज पेश करने में नाकाम रहा। ऐसे में मकान को ध्वस्त करने का आदेश जारी किया गया था।

इससे पहले कानपुर हिंसा मामले में मुख्य आरोपी जफर हयात हाशमी के करीबी के घर पर बुलडोजर चला था। जफर हयात को कानपुर हिंसा का मास्टरमाइंड करार दिया गया था। जिस व्यक्ति के मकान के अवैध हिस्से को गिराया गया उसका नाम इश्तियाक बताया गया था। यूपी पुलिस की ओर से कानपुर में एक्शन स्टार्ट हो गया है। इश्तियाक के घर पर ऐक्शन के बाद से यह साफ हो गया था कि प्रदेश सरकार इस मामले में अब नरमी नहीं बरतेगी।

Advertisement

Advertisement