हम मीडिया में नहीं दिखते लेकिन तैयारी पूरी है 2022 चुनाव की : बसपा सुप्रीमो मायावती

250
Advertisement

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में हर राजनीतिक दल इस समय 2022 के विधानसभा चुनावों की तैयारी में जुटा है। हर दल की कोशिश है कि वह खुद को पूरी तरह सक्रिय और अगले चुनाव में जीत दर्ज कराकर सरकार बनाने के लिए तत्‍पर दिखाए जिससे कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़े और वे अपनी तैयारी में जुटे रहें।

Advertisement

इस बीच सोमवार को बसपा प्रमुख और पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती ने अपनी और अपनी पार्टी को लेकर विपक्ष पर साजिश रचने का आरोप लगाया। मायावती ने आरोप लगाया कि विपक्षी जानबूझकर बसपा के कम सक्रिय होने की अफवाह फैला रहे हैं। जबकि वह खुद फरवरी से लखनऊ में हैं और लगातार बैठकें कर रही हैं। उन्‍होंने यहां तक कह दिया कि भले ही वह मीडिया में कम दिखती हों, लेकिन उन्हें कम न आंका जाए।

उन्होंने कहा कि 2022 के चुनाव के लिए हमने अपना नारा दे दिया है कि यूपी को बचाना है और बसपा को सत्ता में लाना है।मायावती ने बसपा समर्थकों को विपक्ष के हथकंडों से सावधान रहने के लिए आगाह किया। उन्‍होंने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को संदेश दिया कि वो जिला पंचायत अध्‍यक्ष के चुनाव में अपनी ऊर्जा और समय बर्बाद न करते हुए अपना समय पार्टी को मजबूत करने में लगाएं। मायावती ने कहा कि कार्यकर्ताओं ने यदि पार्टी को मजबूत किया तो बसपा अपने बलबूते सरकार बनाएगी।

Advertisement

उन्‍होंने कहा कि विरोधी साम, दाम, दंड, भेद हर तरह की रणनीति अपना रहे हैं। इसके तहत मीडिया के जरिए जानबूझकर अफवाह फैलाई जा रही है कि बसपा आगामी यूपी विधानसभा चुनावों को लेकर सक्रिय नहीं है। जबकि ऐसा नहीं है। यह सब कार्यकर्ताओं का मनोबल और उत्‍साह कम करने की साजिश है। उन्‍होंने बताया कि सभी को मालूम होना चाहिए कि कोरोना की पहली लहर के मद्धिम पड़ते ही फरवरी 2021 से वह लखनऊ में ही हैं।

यही नहीं कोरोना नियमों का पालन करते हुए संगठन को मजबूत बनाने के लिए लगातार छोटी-बड़ी बैठकें करती रहती हैं। उन्‍होंने मीडिया को भी बसपा को कम करके नहीं आकंने की हिदायत दी। कहा कि बसपा की राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष होने के नाते अन्‍य राज्‍यों की भी बैठकें वह करती रहती हैं। लेकिन इन बैठकों को प्रचारित करने के लिए अन्‍य दलों की तरह मीडिया को नहीं बुलातीं। उन्होंने कहा कि हम अपनी हर बात को मीडिया में नहीं रखते तो इसका मतलब यह नहीं है कि हम प्रदेश में सक्रिय नहीं है।

प्रेस कांफ्रेंस के अंत में मायावती ने अगले विधानसभा चुनाव में बसपा को जिताने के लिए जनता का आह्वान करते हुए नारा दिया। उन्‍होंने कहा-यूपी को बचाना है, सर्वजन को बचाना है, बसपा की सरकार जरूर बनाना है। मायावती ने विश्‍वास जताया कि अगले चुनाव में जनता उनकी पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी।

Advertisement

जिला पंचायत अध्‍यक्ष चुनाव न लड़ने का किया ऐलान
बसपा अध्‍यक्ष मायावती ने जिला पंचायत अध्‍यक्ष चुनावों को लेकर कहा कि भाजपा यूपी में समाजवादी पार्टी की शैली अपना रही है। यह लोकतंत्र के लिए अच्‍छा नहीं है। उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी ने इस समय प्रदेश में हो रहे ज़िला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव को नहीं लड़ने का निर्णय लिया है।

मायावती ने कहा कि बीएसपी को यदि यूपी में स्‍वतंत्र और निष्‍पक्ष चुनावों का भरोसा होता तो निश्चित ही पार्टी जिला पंचायत अध्‍यक्ष का चुनाव लड़ती और बड़ी संख्‍या में उसके उम्‍मीदवार चुनाव जीतते भी। उन्‍होंने कहा कि बसपा अगले साल यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव में अकेले चुनाव लड़ेगी।

उन्‍होंने कहा कि बसपा का पूरा फोकस विधानसभा चुनाव पर है। उन्‍होंने कहा कि यूपी में जब कभी बसपा सत्‍ता में रही। चुनाव छोटा हो या बड़ा, कहीं कोई धांधली या बेईमानी नहीं की गई ताकि लोगों का लोकतंत्र में भरोसा बना रहे। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की जनता को लोकतंत्र को बचाने के लिए इन बातों को गंभीरता से लेना चाहिए।

Advertisement
Advertisement
Advertisement