कुशीनगर में मिला टैग और जीपीएस लगा गिद्ध, किसी ने फैला दी जासूसी की अफवाह

391
Advertisement

कुशीनगर (kushinagar) के बरवापट्टी थाना क्षेत्र के रामपुर पट्टी में एक गिद्ध (Vulture) गिरा हुआ पाया गया। उसके दोनों पंखों में सी 3 टैग और जीपीएफ लगा है।

Advertisement

डीएफओ वीसी ब्रह्मा ने जांच पड़ताल के बाद बताया कि इसे नेपाल के चितवन स्थित बर्ड कंजर्वेशन सेंटर से नवंबर-2019 में छोड़ा गया था। तभी से वहां उसकी ट्रैकिंग चल रही है।

Advertisement

गिद्ध के शरीर पर कहीं चोट के निशान नहीं मिले हैं। बीमार या थका लग रहा है। ठीक होने के बाद इसे यहां से छोड़ा जाएगा। फिलहाल यह कुछ खा पी नहीं रहा है। मटन की व्यवस्था की जा रही है।

किसी ने फैला दी थी जासूसी की अफवाह

टैगिंग और जीपीएस लगे गिद्ध के पाए जाने की खबर के बाद किसी ने यह अफवाह फैला दी कि यह किसी दुश्मन देश के जासूसी की तरकीब है। पक्षियों के माध्यम से देश के सेंसेटिव जगहों की जासूसी की जा रही है।

Advertisement

देखते ही देखते यह बात जंगल में आग की तरह फैल गई। हालांकि बाद में अधिकारियों ने स्पष्ट किया कि ऐसी कोई बात नहीं है।

टैगिंग और जीपीएस गिद्धों के विलुप्त होने से बचाने के लिए और उनकी सुरक्षा के किये की गई है। कुछ राष्ट्रीय स्तर के चैनलों ने भी बिना जांच-पड़ताल किए झूठी खबर चलाकर अफवाहें फैलाने मैं मदद की।

Advertisement

Advertisement