परंपरा : दूल्हे के लिए डोली और बरातियों के लिए बैलगाड़ी, देखने वालो ने कहा वाह

605
Advertisement

आज देवरिया जिले के कुशहरी गांव से छोटेलाल पाल की शादी मे तीन दशक पहले की याद ताजा कर गई, जिसे देखने के लिए क्षेत्रीय लोगों का जमावड़ा लग गया।

Advertisement

दूल्हा बने छोटेलाल ने शादी मे स्वयं के लिए डोली की सवारी और बरातियों के लिए किया बैलगाड़ी इन्तजाम किया।

Advertisement

ये देखने के लिए लोगो की भीड़ लग गई। सभी लोगो ने ऐसे परम्परा को जिंदा करने के लिए सराहना की। छोटी लाल की शादी क्षेत्र में खूब चर्चा बटोर रही है।

Advertisement

Advertisement