गोरखपुर के तारामंडल स्थित कुछ निजी हॉस्पिटल इलाज के नाम पर मरीजों से वसूल रहे लाखों रुपए

84
Advertisement

गोरखपुर। यूं तो डॉक्टर को ईश्वर का दूसरा रूप कहते हैं क्योंकि वो अपने मरीजों की जान बचाता है लेकिन कुछ डॉक्टर और हॉस्पिटल ऐसे हैं जिन्हें मरीज की जान से बढ़कर पैसा प्यारा होता है। ऐसे ही कुछ निजी हॉस्पिटल हैं गोरखपुर के तारामंडल इलाके में जहां खुलेआम इलाज के नाम पर तीमारदारों से मोटे रकम वसूले जा रहे हैं। ये खेल इतने बड़े पैमाने पर चल रहा जिसका कोई हिसाब ही नहीं है।

Advertisement

इसकी सेटिंग भी ऐसी है जिसे आप समझ ही नहीं पाएंगे और तो और अगर आप इनका विरोध करेंगे तो ये गुंडे तक पाल रखे हैं जो मारपीट पर उतर जाते हैं। ऐसा नहीं है तारामंडल स्थित सभी प्राइवेट हॉस्पिटल इलाज के नाम पर लूट रहे हैं मगर कहते हैं ना कि एक गंदी मछली पूरे तालाब को गंदा कर देती है बस वही समझ लीजिए। इस इलाके में ऐसे कई हॉस्पिटल हैं जो बिना मानकों के खुले हैं और धड़ल्ले से चल भी रहे हैं। कुछ हॉस्पिटल तो खुद एम्बुलेंस ड्राइवर का काम करने वालों ने ही खोल दिया है।

यही नहीं कई हॉस्पिटल में जिन डाक्टरों का नाम लिखा है वो डॉक्टर भी उपलब्ध नहीं रहते। सब सेटिंग एम्बुलेंस से चलती है इसीलिए शहर में घुसते ही किस मरीज को किस हॉस्पिटल पर पहुँचाना है सब पहले से तय रहता है। कई बार तो गलत इलाज या ज्यादा पैसे वसूलने पर तिमारदारों ने बवाल भी काटा मामला आलाधिकारियों तक भी पहुँचा फिर भी हुआ कुछ नहीं।

Advertisement

अब लोगों को उम्मीद योगी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री और डिप्टी सीएम बृजेश पाठक से है क्योंकि जिस तरह से आज कल औचक निरीक्षण कर वो लापरवाही करने वालों की क्लास लगा रहे हैं उससे उम्मीद है उनका निरीक्षण कभी गोरखपुर में भी होगा और उन आलाधिकारियों सहित ऐसे हॉस्पिटलों पर गाज गिरेगी जो मरीजों की सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे और बेमतलब के पैसे वसूल रहे।

Advertisement