यूपी के इटावा जेल में हुआ बवाल, जांच में जुटी उत्तर प्रदेश पुलिस

89
Advertisement

लखनऊ।  उत्तर प्रदेश के इटावा जेल  में शनिवार सुबह अचानक 3 बजे फायरिंग होने लगी. फायरिंग की आवाज सुनकर सभी कैदी चौक गए. जेल परिसर में मौजूद पुलिसकर्मी जब तक कुछ सोच या समझ पाते तब तक हमलावर फरार हो गए थे. इस घटना के बाद से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है क्योंकि एक बार फिर प्रदेश में जेलों की सुरक्षा पर सवाल खड़े होने लगे हैं.

Advertisement

दरअसल इटावा जेल के डिप्टी जेलर एसएच जाफरी देर रात करीब 3:30 बजे अपने घर से जेल परिसर में निरीक्षण के लिए जा रहे थे. तभी इसी दौरान कुछ लोगों ने रास्ते में उन्हें घेरकर फायरिंग शुरू कर दी. हालांकि जेलर को इस फायरिंग में कही चोट नहीं आई, लेकिन आरोपी उन्हें जान से मारने की धमकी देकर वहां से भाग गए.

पुलिस ने शुरू की जांच पड़ताल

फौरन इस घटना की सूचना जेल पुलिस ने सिविल लाइन पुलिस को दी. जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल शुरू की. पुलिस को हालांकि वहां जमीन पर गोली के खोखे नहीं मिले हैं लेकिन दरवाजों और दीवारों पर गोलियों के निशान मिले हैं. पुलिस घटना के CCTV फुटेज खंगाल रही है.

Advertisement

जेल और घर के बीच हुई घटना

एसएच जाफरी सुबह की शिफ्ट की गश्त करने के लिए देर रात करीब 3.30 बजे अपने आवास से जेल के लिए निकले थे. जेल की बैरकों से सिर्फ सौ मीटर की दूरी पर घर और जेल के बीच तीन चार लोग उनको खड़े दिखाई दिये. इस पर उन्होंने टोका,  उनके टोकते ही बदमाशों ने गालियां देते हुए फायरिंग शुरू कर दी. फायरिंग की घटना से जाफरी भागकर अपने घर में घुस गए.

बदमाशों ने की घर में घुसने की कोशिश

उनके घर में अंदर घुसने के बाद भी बदमाशों ने उनका पीछा किया और दरवाजा खुलवाने की पूरी कोशिश की. दरवाजा नहीं खोला तो बदमाशों ने दरवाजे पर कई गोलियां चलाईं. इस घटना के बाद फौरन डिप्टी जेलर ने घटना की जानकारी उच्चाधिकारियों के साथ ही पुलिस को दी. बता दें कि डिप्टी जेलर एसएच जाफरी पर करीब दो साल पहले भी उनके घर में एक बदमाश ने घुसकर हमला किया था. तब वह बदमाश से भिड़ गए थे. तब भी बदमाश फायरिंग करते हुए भाग निकला था.

Advertisement
Advertisement

Advertisement