लखनऊ जाने वाले यात्रियों के लिए राहत भरी खबर, इन्टरसिटी समेत कई ट्रेनों को हरी झंडी

0
217

रेल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। बोर्ड के निर्देश पर पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने बढ़ती भीड़ को देखते हुए गोरखपुर-लखनऊ और गोरखपुर- मंडुआडीह इंटरसिटी सहित अप्रैल और मई में निरस्त 30 स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेनों को फिर से अगले आदेश तक चलाने की अनुमति प्रदान कर दी है।

Advertisement

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार के अनुसार दस जून से विभिन्न तिथियों से पूर्व निर्धारित समय, ठहराव और मार्ग पर इन ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा। ट्रेनों में सिर्फ आरक्षित कोच लगेंगे। कंफर्म टिकट पर ही यात्रा की अनुमति होगी। कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन अनिवार्य होगा।

इसल‍िए बंद हुआ था संचालन

Advertisement

बढ़ते संक्रमण के बीच लोकल रूट पर अधिकतर ट्रेनें घाटे में चलने लगीं। ऐसे में रेलवे प्रशासन ने दर्जनों ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया। अब जब कोरोना का संक्रमण कम हुआ है, तो यात्रियों का आवागमन बढ़ गया है। लोगों की सुविधा के लिए रेलवे प्रशासन ने प्रथम चरण में निरस्त 70 फीसद एक्सप्रेस ट्रेनों को चलाने का निर्णय लिया है। शुरुआत हो चुकी है। धीरे-धीरे पैसेंजर (सवारी गाडिय़ों) ट्रेनों का संचालन भी शुरू हो जाएगा।

गोरखपुर रूट की ट्रेनों का इन तिथियों से शुरू होगा संचालन

05203 बरौनी- लखनऊ एक्सप्रेस 10 जून से।

Advertisement

05204 लखनऊ- बरौनी एक्सप्रेस 13 जून से।

05070 ऐशबाग- गोरखपुर स्पेशल 13 जून से।

05069 गोरखपुर- ऐशबाग स्पेशल 14 जून से।

Advertisement

05104 मंडुवाडीह- गोरखपुर एक्सप्रेस 15 जून से।

05103 गोरखपुर- मंडुवाडीह एक्सप्रेस 15 जून से।

02531 गोरखपुर- लखनऊ एक्सप्रेस 11 जून से।

Advertisement

02532 लखनऊ- गोरखपुर एक्सप्रेस 11 जून से।

05009 गोरखपुर- मैलानी स्पेशल 10 जून से।

05010 मैलानी- गोरखपुर एक्सप्रेस 11 जून से।

Advertisement

05269 मुजफ्फरपुर- अहमदाबाद 10 से 24 जून तक।

05270 अहमदाबाद- मुजफ्फरपुर 12 से 26 जून तक।

रेलकर्मी के लिए नरमू ने जुटाए 1 लाख 67 हजार

Advertisement

एनई रेलवे मजदूर यूनियन (नरमू) ने मंगलवार को ड्यूटी के दौरान घायल होकर अपना एक पैर गंवाने वाले रेलकर्मी हरि प्रकाश विश्वकर्मा के स्वजन को 1 लाख 67 हजार रुपये का चेक प्रदान कर आर्थिक मदद की। यूनियन के महामंत्री केएल गुप्त की अपील पर संबंधित विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने रुपये जुटाए थे।

पूर्वोत्तर रेलवे मुख्यालय गोरखपुर स्थित कैरेज एंड वैगन डिपो कार्यालय में हेल्पर के पद पर तैनात हरि प्रकाश पिछले माह ड्यूटी के दौरान घायल हो गए थे। मेदांता में इलाज के बाद भी उनका एक पैर बचाया नहीं जा सका। यूनियन के संयुक्त महामंत्री ओंकार के अनुसार घायल रेलकर्मी को केंद्रीय कर्मचारी कल्याण निधि से स्कूटी व अन्य आवश्यक उपकरण भी उपलब्ध कराया जाएगा।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement