देश में जगह जगह चीन का विरोध, शी जिनपिंग का पुतला फूंका

270
Advertisement

गोरखपुर। चीन की धोखेबाजी और उनके सैनिकों के विश्वासघात के खिलाफ देश में जगह-जगह लोग। विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। गोरखपुर-बस्‍ती मंडल में भी कई स्‍थानों पर लोगों ने सड़क पर उतरकर अपना गुस्‍सा जाहिर किया।

Advertisement

महराजगंज में हिन्‍दू युवा वाहिनी कार्यकर्ताओं ने चीनी राष्‍ट्रपति शी जिंगपिंग का प्रतीकात्‍मक पुतला भी फूंका। लोगों ने हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए चीन के विरोध में जमकर नारेबाजी की। सरकार से मांग की कि बातचीत से मामले का हल नहीं निकले तो जिस तरह पाकिस्तान में घुसकर सैन्य कार्रवाई हुई थी, उसी तर्ज पर चीन में घुसकर कार्रवाई की जाए।

हियुवा के जिलाध्यक्ष नरसिंह पांडेय के नेतृत्व में भाजपा नगर अध्यक्ष प्रेम जायसवाल, राजू गुप्ता, प्रेम सिंह, धर्मेन्द्र, राजकुमार नायक, सुनील जायसवाल, मनोज मद्धेशिया सहित कार्यकर्ता और पदाधिकारी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सोनौली सीमा पर रामजानकी मंदिर के सामने जुटे।

Advertisement

चीनी राष्ट्रपति का पुतला फूंकने के बाद हियुवा जिलाध्यक्ष नरसिंह पांडेय ने कहा कि चीनी सैनिकों की इस कायराना हरकत को किसी कीमत पर बर्दाश्‍त नहीं किया जा सकता है। उन्‍होंने केंद्र सरकार से चीन के खिलाफ सर्जिकल स्‍ट्राइक की मांग की।

महराजगंज के नौतनवा कस्बे में भी बुधवार को पूर्व सैनिकों ने लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सेना द्वारा भारतीय सैनिकों पर धोखे से किए गए हमले की निंदा की। घटना में शहीद जवानों को मोमबत्‍ती जलाकर श्रद्धांजलि दी गई।

नारेबाजी के बीच गांधी चौक पर पूर्व सैनिकों ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का पुतला फूंक चीन को मुंहतोड़ जवाब देने की मांग की। पूर्व सैनिकों ने कहा कि शहीद जवानों की कुर्बानियों का हिसाब इस तरह किया जाए कि चीन दोबारा आंख न उठा सके।

Advertisement
Advertisement