आज से रोस्टर खत्म अब हफ्ते में 5 दिन खुलेंगी सभी दुकानें, 4 थाना क्षेत्रों में लॉकडाउन

364
Advertisement

गोरखपुर। चार थाना क्षेत्रों में पूर्ण लॉकडाउन लगाने के साथ ही जिला प्रशासन ने जिले में दुकानों को खोलने को लेकर रोस्टर की व्यवस्था समाप्त कर दी है।

Advertisement

आज मंगलवार से सभी दुकानें सुबह 10 बजे से शाम सात बजे तक खुल सकेंगी। हर सप्ताह सोमवार से शुक्रवार तक दुकानें खुलेंगी।

शासन की ओर से लागू साप्ताहिक पाबंदी (शनिवार व रविवार) के दौरान व कंटेन्मेंट जोन में दुकानें नहीं खुलेंगी।

Advertisement

तीन महीने से रोस्टर के अनुसार खुल रही थीं दुकानें

उल्‍लेखनीय है कि पिछले करीब तीन महीने से जिले में रोस्टर के अनुसार ही दुकानें खुल रही हैं। सप्ताह में तीन-तीन दिन अलग-अलग दुकानों को खोलने का निर्देश दिया गया था।

चार थाना क्षेत्रों में लॉकडाउन के फैसले से निराश व्यापारियों को रोज दुकानें खुलने के फैसले से राहत भी मिलेगी।

जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन ने बताया कि जिन क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या अधिक है, वहां लॉकडाउन लगाया जा रहा है। ऐसे में अब रोस्टर की जरूरत नहीं है।

Advertisement

डीएम ने बताया रोस्‍टर का उद्देश्‍य

उन्होंने कहा कि रोस्टर का उद्देश्य था कि बाजार में भीड़ कम लगे। ऐसे में चार थाना क्षेत्रों में लॉकडाउन होने से भीड़ अपने आप कम हो जाएगी। कंटेन्मेंट जोन में पूरी सख्ती रहेगी, वहां दुकानें नहीं खुलेंगी। गौरतलब है कि व्यापारी संगठन काफी पहले से रोज दुकानें खोलने की मांग कर रहे थे।

जनता ने नहीं दिखाई लॉकडाउन के प्रति गंभीरता

दो दिन की पूर्ण बंदी के बाद बाजार खुलते ही भीड़ उमड़ी पड़ी। सड़कों पर जाम की स्थिति बनी रही। दो बड़े त्योहारों की वजह आसपास के कस्बों से बड़ी संख्या में खरीदार बाजार पहुंचे थे।

भीड़ देख दुकानदार भी उत्साहित दिखे, लेकिन इस दौरान कई दुकानों के बाहर फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन होते नजर नहीं आया।

Advertisement

दूसरी तरफ गोरखनाथ और शाहपुर क्षेत्र में छह दिन बाद बाजार गुलजार दिखा। दोनों इलाकों में मंगलवार से बंदी चल रही थी। भीड़ की वजह से गोलघर में लोगों का घंटों जाम का सामन करना पड़ा। जाम हटाने के लिए ट्रैफिक पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

सिनेमा रोड स्थित शाही मार्केट के पास सड़क की दोनों पटरियों पर बेतरतीब खड़े वाहनों की वजह से लोग जाम में फंसे नजर आए।

हॉट-स्टाफ होने की वजह से बेतियाहाता की तरफ जाने वाले मार्ग को बंद कर दिया गया था इस वजह से भी कई मार्गों पर अन्य दिनों के मुकाबले ज्यादा ट्रैफिक नजर आया।

Advertisement

असुरन की कुछ दुकानों पर लोग फिजिकल डिस्टेंसिग पूरी तरह से बेपरवाह नजर आए। यहां एक-दूसरे सटकर लोग खड़े दिखे। कई लोग तो बिना मास्क के ही नजर आए।

Advertisement