यूपी एक बार फिर शराब का कहर, अलीगढ़ मे नकली शराब पीने से 8 लोगों की मौत

628
Advertisement

ताला नगरी अलीगढ़ में शराब के सेवन से शुक्रवार को आठ लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही दस लोगों की हालत गंभीर बनी है। इन सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जांच क आदेश दिए हैं।

Advertisement

डीएम चंद्रभूषण सिंह समेत प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। मामले की जांच का आदेश दिए है। डीएम ने अब आठ लोगों के मरने की पुष्टि की है। इनमे पांच करसुआ, एक अंडला व दो ट्रक ड्राइवर हैं। आशंका व्‍‍‍‍‍यक्‍त की जा रही है कि मृतकोंं की संख्‍या अधिक हो सकती है।

जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने आठ लोगों के मरने की पुष्टि की

Advertisement

जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने आठ लोगों के मरने की पुष्टि की है। जबकि हंगामा कर रहे लोग मरने वालों की संख्या अधिक बता रहे हैं। सभी अलग-अलग गांवों से हैं, पुलिस इनकी सही जानकारी जुटाने में लगी है। अलीगढ़ लोधा थाना क्षेत्र के गांव करसुआ में शराब पीने से आठ लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही दस से अधिक लोगों की हालत गंभीर है।

इन सभी ने गरुवार को शराब खरीदी थी। देर शाम इन सभी ने शराब का सेवन किया। इसके बाद से इनकी हालत बिगडऩे लगी। पुलिस ने शराब ठेका अपने कब्जे में ले लिया है। जांच की जा रही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने  शराब ठेका  को अपने कब्जे में ले लिया है। इस दौरान ग्रामीणों ने शराब ठेका के खिलाफ हंगामा भी किया।

स्थानीय लोगों ने बताया है कि शराब के सेवन के बाद जान गंवाने वालों ने गांव ही ठेके से शराब खरीद कर पी थी। मृतकों में दो करसुआ में एचपी गैस बॉटलिंग प्लांट के ड्राइवर हैं। एसडीएम कोल रंजीत सिंह ने बताया कि जिन लोगों की मौत हुई है।

Advertisement

अभी उनके परिवार के लोगों ने बताया है कि इन सभी ने गांव ही ठेके से शराब खरीद कर उसका सेवन किया था। मृतकों में दो एचपी गैस बॉटलिंग प्लांट, करसुआ के ड्राइवर हैं। वहीं तीन मृतक गांव के ही रहने वाले हैं। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

इस घटना की जानकारी मिलने के बाद से ही बड़ी संख्या में गांव को लोग एकत्र हो गए हैं। यह सभी लोग शराब के ठेके के बाहर हंगामा कर रहे हैं। पुलिस ने इनको अपने नियंत्रण में किया है।इस घटना की जानकारी मिलने के बाद से ही बड़ी संख्या में गांव को लोग एकत्र हो गए हैं। यह सभी लोग शराब के ठेके के बाहर हंगामा कर रहे हैं। पुलिस ने इनको अपने नियंत्रण में किया है।

छेरत में रात में जहरीली शराब पीने से तीन लोगों की मौत हो गई जबकि एक व्यक्ति अभी भी गंभीर है।मामले की सूचना सुबह थाना पुलिस को दी गई जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच कर रही है।

Advertisement

छेरत के पास ही कालूपुरा रोड पर देसी शराब का ठेका है, जिस पर क्षेत्र आसपास के ग्रामीण रोजाना शराब लेने आते हैं छेरत निवासी मनोज पुत्र सुखवीर 50 वर्ष जीतेंद्र पुत्र बर्फ सिंह 50 वर्ष,ओम वीर पुत्र शीशपाल 40 वर्ष एवं टीन्नू पुत्र साहब सिंह शाम करीब 6:00 बजे शराब लेने गए थे।

वहां से शराब पीने के बाद यह सभी लोग अपने घर लौटे जहां रात 10:00 बजे के बाद इनकी अचानक तबीयत खराब हुई। पास में ही प्राइवेट डॉक्टरों से उन्हें हल्की फुल्की दवाई दिलाई गई। स्थिति बिगड़ने पर उन्हें पास में ही एक प्राइवेट नर्सिंग होम ले जाया गया जहां सभी लोगों की गंभीर स्थिति को देखते हुए नर्सिंग होम संचालक ने उन्हें भर्ती करने से इंकार कर दिया।

प्रातः करीब 4:00 बजे एक के बाद एक तीन लोगों की मौत हो गई। टीन्नू पुत्र साहब सिंह की हालत अभी भी गंभीर है। उसके अनुसार उसे देखना बंद हो गया है एवं सांस लेने में परेशानी हो रही है मौके पर थाना पुलिस के साथ सीओ सिविल लाइन विशाल चौधरी भी मौके पर पहुंच गए हैं एवं मृतकों के मामले में जांच में कार्यवाही की जा रही है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement