कोरोना संकट के बीच एंट्रेंस एग्जाम को लेकर असमंजस में विद्यार्थी, पेपर दें या ना दें?

308
Advertisement

गोरखपुर। देशभर में कोरोना का कहर जारी है इस बीच देश में कोरोना का आंकड़ा 20 लाख के करीब पहुँच गया है। बात यूपी की करें तो यहां आंकड़ा 1 लाख के पार है। रोजाना ही कोरोना के मरीज मिल रहे हैं। स्थिति ये है कि अब अस्पतालों में भी जगह नहीं बची है। सरकार ने हल्के लक्षण वाले मरीजों को अब होम आइसोलेशन की सुविधा दे दी है।

Advertisement

वहीं इसी मदन मोहन मालवीय विश्वविद्यालय द्वारा 8 अगस्त को बीटेक,बीसीए,बीबीए,एमबीए आदि कोर्सेज के लिए एंट्रेंस एग्जाम कराया जा रहा है। इसी के साथ यूपी बीएड का भी पेपर 9 अगस्त को है।

सोशल मीडिया पर कई छात्र छात्राओं ने इसका विरोध किया है मगर पेपर को फिलहाल टालने की कोई उम्मीद विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा नजर नहीं आ रही। विद्यार्थियों को समझ नहीं आ रहा कि पेपर देने जाए या नहीं जाएं।

Advertisement

छात्र छात्राओं को डर है कि कहीं पेपर देने के चक्कर में कुछ अनहोनी ना हो जाये। उन्हें डर है कि कहीं कोरोना का संक्रमण ना फैले।

खैर पेपर को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने साफ कर दिया है कि 8 अगस्त को ही पेपर होगा। विश्वविद्यालय प्रशासन ने ये जरूर कहा है कि हम पूरे सुरक्षा को देखते हुए ही एंट्रेंस एग्जाम कराएंगे जिससे कोरोना का संक्रमण ना फैले।

Advertisement

Advertisement