गोरखपुर यूनिवर्सिटी में आज से शुरू हुआ एडमिशन प्रोसस, इस तरह भरे जाएंगे फॉर्म

0
276
Advertisement

गोरखपुर। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के 2021-22 सेशन के लिए एडमिशन प्रोसेस आज से शुरू हो गया है। विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाईट http://ddugorakhpur.com/entrance21/Default.aspx के माध्यम से आवेदन किए जा सकते हैं।

Advertisement
ये होगा पूरा प्रोसेसस

चरण 1 पहले प्रोसेस में रजिस्ट्रेशन के लिए सभी जरूरी जानकारी फिल कर के रजिस्ट्रेशन करना होगा। ध्यान दें आपको वेबसाईट के होम पेज पर रजिस्ट्रेशन के लिए 2 ऑप्शन दिखाई देंगे एक नेशनल एडमिशन और दूसरा इन्टरनेशनल एडमिशन। अगर आप भारतीय हैं तो आपको नेशनल एडमिशन का विकल्प चुनना है। रजिस्ट्रेशन के लिए सभी डिटेल्स भरें, फिर आगे बढ़ें।

चरण 2 रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्रिन्ट करें और लॉगिन करने के लिए आगे बढ़ें
रजिस्ट्रेशन संख्या और जन्म तिथि आपका लॉगिन आईडी और पासवर्ड होगा।

Advertisement

चरण 3 पेमेंट जिन पाठ्यक्रमों के लिए आप आवेदन करेंगे उसक फीस आपको ऑनलाइन पे करना होगा।  पेमेंट के बाद पेमेंट की रसीद प्रिंट करें।

चरण 4 आवेदन पत्र भरें

कैंडीडेट को फीस पेमेंट के बाद पूरा एडमिशन फॉर्म भरना होगा।  जिस प्रक्रिया में फोटो और सिग्नेचर अपलोड करने होंगे।

Advertisement

चरण 5 फाइनल प्रिन्टआवेदन किए गए फॉर्म का फाइनल प्रिन्ट करे और उसे संभाल कर रखें, जो प्रवेश के समय डाक्यमेन्ट वेरीफिकेशन में काम आएगा।

इन कोर्सेज के लिए कर सकते हैं आवेदन

— Undergraduate Courses —
B. A.
B. Sc. (Maths)
B. Com.
B.Sc. (Bio)
B. Sc.(Ag)
B. J.
B. C .A.
B. B. A.
L. L. B.
B. A. L. L. B.
B. Sc. (Ag)
Bachelor of Physiotherapy
B.Sc. ( Medical Laboratory Technology )
B. Tech.

 


— Postgraduate Courses —
Post Graduate Diploma in Disaster and National Security Management
M.A. (Sociology)
M. A. ( Psychology )
M. A. ( Geography )
M. A. ( Ancient History )
M. A. ( HISTORY )
M. A. ( Economics )
M. A. ( Political Science )
M. A. ( Hindi )
M. A. ( English )
M. A. ( Sanskrit )
M. A. ( Philosophy )
M. A. ( Urdu )
M. A. ( Education )
M. A. ( Home Science )
M. A./ M.Sc. ( Defence Studies and Strategic Studies )
M. A. ( Continuous Education and Education Work )
M. Com.
LL.M.
M.A. (Performing Art)
M.A. (Visual Art)
M.A./ M.Sc. ( Mathematics )
M.Sc. ( Physics )
M.Sc. ( Chemistry )
M.Sc. ( Statistics )
M.Sc. ( Zoology )
M.Sc. (Botany )
M.Sc. ( Biotechnology )
M.Sc. ( Computer Science )
M.Sc. ( Electronics )
M.Sc. ( Environmental Science )
M.Sc. ( Microbiology )
M.Sc. ( Agriculture ) (Genetics & Plant Breeding)
M.Sc. ( Agriculture ) (Agricultural Economics )
M.Sc. ( Agriculture ) (Agricultural Extension )
M.Sc. ( Agriculture ) (Agricultural Zoology and Entomology )
M.Sc. ( Agriculture ) ( Agronomy )
M.Sc. ( Home Science ) (Resource Management)
M.Sc. ( Home Science ) ( Food and Nutrition )
M.Sc. ( Home Science ) (Clothing and Textile)
M.Sc. ( Home Science ) (Extension Education)
M.Sc. ( Home Science ) (Human Development and Family Studies)
M.Sc. ( Agriculture ) ( Horticulture )
M.Ed.
M.B.A.

 

Advertisement

फैकल्टी ऑफ एग्रीकल्चर तथा इंस्टिट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के लिए पांच-पांच करोड़ का बजट

यूनिवर्सिटी ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 से प्रारंभ होने वाले फैकल्टी ऑफ एग्रीकल्चर के लिए 5 करोड़ के बजट को पारित किया। इस बजट से नयी फैकल्टी के सुचारू संचालन के लिए विश्वविद्यालय के दीक्षा भवन में आईसीएआर (ICAR) की गाइडलाइंस के अनुरूप पांच लेक्चर थिएटर और स्मार्ट क्लासेज, छह मोड्यूलर लेब्रोटरी, कॉन्फ्रेंस रूम, कैंटीन, डायरेक्टर/डीन तथा टीचर्स के बैठने केलिए आधुनिक चैम्बर्स इत्यादि को तैयार किया जायेगा। इसके साथ ही आधुनिक डिपार्टमेंटल लाइब्रेरी व बुक बैंक तथा एग्री फार्म को भी विकसित किया जाएगा जिससे शैक्षणिक गुणवत्ता सुनिश्चित की जा सके।

इंस्टिट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी को आगामी शैक्षणिक सत्र से संचालित करने के लिए भी 5 करोड़ का बजट मंजूर किया है। इस इंस्टीट्यूट को विश्वविद्यालय के मूल्यांकन भवन से संचालित करने के लिए एआईसीटीई (AICTE) की गाइडलाइंस के अनुरूप छह लेक्चर थिएटर, चार लैब्स, स्मार्ट क्लासेज, डायरेक्टर व डीन तथा टीचर्स केलिए आधुनिक चैम्बर्स इत्यादि को तैयार किया जायेगा।

मूल्यांकन केंद्र में बीटेक (आईटी) तथा बीटेक (मैकेनिकल इंजीनियरिंग) कोर्सेज को चलाया जाएगा। इसके साथ ही विश्वविद्यालय के डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स तथा कंप्यूटर सेन्टर को भी अपग्रेड किया जायेगा जहाँ से बीटेक (इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन) तथा बीटेक (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग) कोर्सेज को संचालित किया जायेगा। मूल्यांकन का कार्य पूर्व की तरह मूल्यांकन केंद्र से ही किया जायेगा।

Advertisement

यूजीसी/सीएसआईआर के तर्ज पर छह फ़ेलोशिप

यूजीसी/सीएसआईआर के तर्ज पर छह फ़ेलोशिप भी देने के प्रस्ताव को स्वीकार किया है जिसमें चार पीडीएफ तथा दो पीएचडी की फेलोशिप होगी। कुलपति प्रो सिंह के कहा कि इनमें से एक फेलोशिप जिनोमिक्स एंड बायोइन्फरमेटिक्स केंद्र के अंतर्गत कोविड-19 वायरस पर रिसर्च के लिए दिया जायेगा।

लाइब्रेरी के आधुनिकीकरण का प्रस्ताव भी मजूर

विश्वविद्यालय की लाइब्रेरी को आधुनिक बनाने तथा ऑनलाइन करने के लाइब्रेरियन के प्रस्ताव को भी स्वीकार कर लिया है। विश्वविद्यालय द्वारा 2021-22 में नैक मूल्यांकन में उच्च ग्रेडिंग केलिए लाइब्रेरी को आधुनिक बनाने का कार्य इसी दिशा में किया जा रहा प्रयास है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement