तमाम प्रत्याशियों के बाद अब महेंद्र पाल की चर्चा, आखिर कौन होगा गोरखपुर से बीजेपी प्रत्याशी?

485
Advertisement

लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग शुरू हो गयी है, पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को हुई। 20 राज्यों के 91 सीटों के पहले चरण में मतदान किये गए। बात उत्तर प्रदेश की करें तो यहां 8 सीटों के लिए मतदान हुए। पार्टियों द्वारा प्रत्याशियों के नाम अभी भी घोषित किये जा रहे हैं मगर लोगों को इंतजार है तो वो है यूपी के गोरखपुर सीट का, इस सीट का लोगों को इंतजार इसलिए भी है क्योंकि ये वीआईपी सीट है लगातार 5 बार यहां सांसद रहे हैं योगी आदित्यनाथ जोकि मौजूद यूपी के मुख्यमंत्री हैं। 2018 में हुए उपचुनाव में गठबंधन के प्रत्याशी प्रवीण निषाद ने गोरखपुर की परंपरागत सीट पर बीजेपी प्रत्याशी उपेंद्र शुक्ला को मात देकर इतिहास रचा, लेकिन प्रवीण बहुत दिन तक गठबंधन का हिस्सा नहीं रह पाए और हाल ही उन्होंने बीजेपी का दामन थाम लिया। हालांकि प्रवीण से पहले अमरेंद्र निषाद और उनकी माता जी ने बीजेपी का साथ पकड़ कर यूपी के राजनीति में थोड़ी चहल पहल बढ़ाई थी और अनुमान ये लगने लगा था कि अमरेंद्र निषाद ही हो सकते हैं गोरखपुर लोकसभा सीट के बीजेपी प्रत्याशी। मगर कहते हैं न कि राजनीति में कब क्या हो जाएं कुछ कहा नहीं जा सकता शायद तभी कुछ दिन बाद प्रवीण निषाद ने समाजवादी पार्टी से नाता तोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया। प्रवीण के पार्टी में शामिल होने के बाद ही लोगों ने ये मान लिया था कि गोरखपुर से बीजेपी प्रत्याशी अब बस प्रवीण ही होंगे लेकिन पार्टी ने अभी तक इसपर मोहर नहीं लगाया। अब तारीखें जैसे जैसे बढ़ रही हैं कई नाम भी सामने आ रहे हैं, सूत्रों की माने तो योगी आदित्यनाथ के करीबी और पिपराइच के विधायक महेंद्र पाल सिंह गोरखपुर से प्रत्याशी होंगे अब अगर ऐसा होता है तो देखना होगा हाल ही में बीजेपी का दामन थामने वाले प्रवीण निषाद को बीजेपी क्या जिम्मेदारी देती है माना जा रहा है कि प्रवीण निषाद को बीजेपी भदोही से टिकट दे सकती है और उनके पिताजी यानी निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद को पार्टी की तरफ से राज्यसभा भेजा जा सकता है। हालांकि पार्टी की तरफ से अभी औपचारिक तौर पर किसी भी नाम पर मुहर नहीं लगाई गई है लेकिन अटकलों का बाजार इस समय गर्म है और महेंद्र पाल सिंह का नाम सबसे ऊपर है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement